Thursday, February 22, 2024

ईडी के विरुद्ध ढोल नगाड़ा लेकर सड़क पर उतरे सैकड़ों झामुमो कार्यकर्ता, ईडी एवं केंद्र सरकार के विरुद्ध किया विरोध प्रदर्शन

बांस- बल्ला लगाकर मुख्य सड़क को किया जाम

ईडी लगातार समन जारी कर सीएम हेमंत सोरेन के छवि को कर रही धूमिल : तमीरुद्दीन

उधवा/साहेबगंज : प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के द्वारा सीएम हेमंत सोरेन को लगातार आठवीं बार समन जारी करने के विरोध में जगह जगह विरोध प्रदर्शन किया जा रहा है। इसी क्रम में बुधवार को उधवा प्रखंड मुख्यालय के समीप जिलाध्यक्ष शाहजहां अंसारी के निर्देशानुसार झामुमो के सैकड़ों कार्यकर्ता ढोल नगाड़ा लेकर सड़क पर उतरकर विरोध प्रदर्शन किया। वही टायर जलाकर राजमहल उधवा एनएच 80 मुख्य मार्ग को बांस बल्ला लगाकर सड़क को जाम कर दिया। जिससे दोनों तरफ वाहनों की लंबी कतार लग गई। वही सड़क जाम से घंटों आवागमन बाधित रहा। 20 सूत्री प्रखंड अध्यक्ष मो तमीरुद्दीन के नेतृत्व में सैकड़ों कार्यकर्ताओं ने विरोध प्रदर्शन करते हुए केंद्र की सरकार व ईडी के विरुद्ध जमकर नारेबाजी किया। वही कार्यकर्ताओं ने ईडी हाय हाय,ईडी तेरी मनमानी नहीं चलेगी, ईडी होश में आओ,नरेंद्र मोदी मुर्दाबाद,अमित शाह मुर्दाबाद आदि नारे लगाए।

विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर स्थानीय पुलिस बल रही मौजूद 

विधि व्यवस्था बनाए रखने को लेकर स्थानीय थाने के एसआई जयबहादूर सिंह, प्रमोद पाल, एएसआई कार्तिक उरांव आदि पुलिस बल मौजूद थे। इस दौरान मो. तमीरुद्दीन ने कहा कि केंद्र की सरकार जनता की चुनी हुई हेमंत सोरेन की सरकार को अस्थिर करने में लगी है। भाजपा की केंद्र सरकार लोकतंत्र की हत्यारा है। देश में जहां-जहां बीजेपी की राज्य सरकार नहीं वहां ईडी, सीबीआई व एनआईए जैसी एजेंसियों को दमन के लिए इस्तेमाल कर रही है। भाजपा अपनी राजनीतिक उद्देश्य की पूर्ति के लिए ऐसा कर रही है। झामुमो इसका विरोध करेगी। कहा कि केंद्र की भाजपा सरकार केंद्रीय एजेंसियों का दुरुपयोग कर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन की छवि धूमिल करना चाह रही है। सम्मान को ठेस पहुंचाने व चरित्र पर दाग लगाने की उनकी कोशिश को झामुमो बर्दाश्त नहीं करेगा।

मौके पर झामुमो के थे सैकड़ों कार्यकर्ता

मौके पर पूर्व प्रखंड अध्यक्ष अनवारूल हक, एहतेशामगनी उर्फ चांद, जैनूल आबेदीन शेख, बरकत शेख, केशरुल शेख, कीनू सोरेन, सकल हेंब्रम, ताजदार शेख, हफीजूर रहमान,कृष्ण घोष,राजेश नदाब सहित झामुमो के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

आप की राय

राष्ट्रियपति द्रोपदी मुर्मू को नवनिर्मित संसद भवन में आमंत्रित नहीं करना, सही या गलत ?

Our Visitor

026396
Latest news
Related news