Thursday, February 22, 2024

Flooding in Sahibganj: महादेवगंज मुस्लिम टोला के समीप आए बाढ़ के पानी में स्नान करने गए तीन किशोर लापता, परिजन का बुरा हाल

– जलस्तर बढ़ने से गंगा नदी उफान पर, क्षेत्र में चारो ओर बाढ़ का पानी, जिलावासियों को खली एनडीआरएफ टीम की कमी
– लापता किशोरों की खोजबीन आज फिर रहेंगी जारी
साहिबगंज: मुफस्सिल थाना क्षेत्र अंतर्गत महादेवगंज मुस्लिम टोला में शुक्रवार की शाम 4:30 बजे के करीब गंगा पुल निर्माण स्थल के समीप आए बाढ़ के पानी (मरगंग) में स्नान कर रहे तीन किशोर लापता हो गया। मामले की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों ने किशोरों को ढूंढना शुरू किया। वहीं घटना की सूचना मिलते ही सदर सीओ अब्दुस समद व मुफस्सिल थाना प्रभारी अनुपम प्रकाश ने मौके पर पहुंच, मामले की जानकारी ली। मिली जानकारी के अनुसार तीनो किशोर महादेवगंज के गोढ़ी टोला के निवासी है। किशोरों में अरुण भगत का पुत्र भोला भगत (14 वर्ष), दिलीप पासवान का पुत्र कृष पासवान (15 वर्ष) और मनोज पासवान का पुत्र आदित्य पासवान (15 वर्ष) शामिल है। काफी देर खोजबीन के बाद भी तीनो किशोर का अतापता नहीं चल पाया। वहीं घटना से परिजनों का रो रोकर भरा हाल है। कुछ स्थानीय गोताखोरों के माध्यम से देर शाम करीब सात बजे तक खोजबीन गई, परंतु काफी अंधेरा होने के कारण खोजबीन बंद कर दिया गया।
बाढ़ के पानी में स्नान करने तीन किशोर उतरा, एक रहा बाहर:-
वहीं ग्रामीणों ने अनुसार चार दोस्त अपनी साइकिल से गंगा पुल निर्माण स्थल के समीप आए बाढ़ के पानी को देखने आए थे, उसी क्रम में तीन दोस्तो ने पानी में उतर कर स्नान करने लगा, और चौथा दोस्त बंडू नामक किशोर पानी में नहीं उतरा। वहीं बुंडू सभी की साईकिल व अन्य सामान की देखभाल किनारे पर कर रहा था। इस बीच काफी देर तक बाहर नहीं आने पर किनारे बैठे किशोर बुंडू ने इस बात की सूचना जाकर अपने गांव में दी। जिसके बाद ग्रामीण घटना स्थल पर पहुंच किशोरों की खोजबीन में जुट गए। वहीं मौके पर मौजूद सीओ ने कहा कि काफी अंधेरा होने के कारण खोजबीन में काफी परेशानी हो रही है, शनिवार की अहले सुबह से नाव और गोताखोरों के माध्यम से खोजबीन की जायेगी। खबर लिखे जाने तक बालकों का कुछ पता नहीं चला था।
एनडीआरएफ टीम की खली कमी:-
बता दें कि झारखंड का एक मात्र जिला साहिबगंज जहां गंगा बहती है, और हर साल साहिबगंज जिले में बाढ़ का आना निश्चित रहता है, उसके बाबजूद भी सरकार और जिला प्रशासन द्वारा एनडीआरएफ की टीम साहिबगंज जिले में ना होकर देवघर में होना सवाल खड़ा करता है। अभी फिलहाल साहिबगंज जिले में गंगा नदी उफान पर है, जिससे जिले के कई क्षेत्रों में बाढ़ का पानी प्रवेश कर चुका है। वहीं काफी अरसे से जिलावासी यहां एनडीआरएफ टीम का मांग कर रहे है, परंतु शासन और प्रशासन द्वारा इस बात पर अमल नहीं किया गया। जिससे आए दिन गंगा में डूबने की खबर मिलते रहती है, और अभी तक किसी को बचाया नहीं जा सका है, जो की यहां के वासियों के लिए दुर्भाग्य है। वहीं जिलावासियों ने एक बार फिर सरकार से गुहार लगाई है कि यहां एनडीआरएफ टीम की मांग करते दिखें। वहीं अगर आज एनडीआरएफ की टीम होती तो शायद डूबे तीनो किशोरों को बचाया जा सकता था।

आप की राय

राष्ट्रियपति द्रोपदी मुर्मू को नवनिर्मित संसद भवन में आमंत्रित नहीं करना, सही या गलत ?

Our Visitor

026397
Latest news
Related news