Thursday, February 22, 2024

झारखंड की दुर्दशा का जिम्मेदार महागठबंधन, विकास के बजाय अपना घर भरने में लगी हेमंत सरकार: BJP सांसद

चतरा: भाजपा के वरिष्ठ नेता सह राज्यसभा सांसद आदित्य साहू ने चतरा में प्रदेश की हेमंत सरकार पर जमकर हमला बोला है। जिला कार्यालय में आयोजित संगठनात्मक बैठक में शिरकत करने पहुंचे राज्यसभा सांसद ने कहा कि ढाई वर्षों से प्रदेश में महागठबंधन की सरकार है। बावजूद यहां जनहित के बजाय सरकार में शामिल लोग निजी स्वार्थ व अपने हित और सुविधा के अनुसार कार्य कर रहे हैं। इसी का नतीजा है कि आज पूरे प्रदेश में भ्रष्टाचार हावी है। सीएम हेमंत सोरेन के नेतृत्व में गठित सरकार और उसमें शामिल कांग्रेस, जेएमएम व राजद के लोग जनता का विकास करने के बजाय अपने घरों को भरने में लगे हैं।

अगर सीएम की सदस्यता जाती है तो इसके जिम्मेदार वे खुद होंगे: आदित्य साहू
राज्यसभा सांसद ने सीएम के करीबी प्रेम प्रकाश के घर ईडी की छापामारी के दौरान दो एके-47 बरामदगी मामले पर भी सरकार को घेरा है। उन्होंने कहा कि सीएम के नजदीकी के घर से प्रतिबंधित सामान की बरामदगी दुर्भाग्यपूर्ण है। ये लोग राज्य को गलत दिशा में ले जा रहे हैं। प्रदेश में मचे सियासी घमासान और महागठबंधन के आरोपों पर जवाब देते हुए राज्यसभा सांसद ने कहा कि बीजेपी झारखंड में सरकार नहीं गिरा रही, बल्कि यह सरकार अपने कर्मों से जाएगी। उन्होंने कहा कि अगर सीएम की सदस्यता जाती है तो इसके जिम्मेदार वे खुद होंगे।

प्रदेश में कांग्रेस पार्टी सत्ता मोह में पड़ी है: आदित्य साहू
आदित्य साहू ने कहा कि सत्ताधारी दलों के विधायक आज क्षेत्र में जाने से घबराने लगे हैं। क्योंकि चुनाव के दौरान की गयी घोषणाओं को अभी तक सरकार जमीन पर नहीं उतार सकी है। ऐसे में भयभीत सत्ताधारी दलों के ज्यादातर विधायक सरकार से भागने के पक्ष में हैं क्योंकि महागठबंधन में शामिल झामुमो, कांग्रेस और राजद का चरित्र किसी से छुपा नहीं है। उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथों लेते हुए झारखंड में अपनी दुर्दशा कराने का आरोप लगाया है। आदित्य साहू ने कहा कि प्रदेश में कांग्रेस पार्टी सत्ता मोह में पड़ी है। इसी का परिणाम है कि लगातार झामुमो और मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के दुत्कारे जाने का भी कांग्रेस पार्टी पर असर नहीं पड़ रहा है। कांग्रेस पार्टी का मुख्यमंत्री एक नहीं सुनते उसके बावजूद सरकार में बना रहना बड़ी बात है।
रिपोर्ट- अशोक तुलस्यान

Source link

आप की राय

राष्ट्रियपति द्रोपदी मुर्मू को नवनिर्मित संसद भवन में आमंत्रित नहीं करना, सही या गलत ?

Our Visitor

026397
Latest news
Related news