Saturday, July 20, 2024

Prem Prakash Arrest: कारोबारी प्रेम प्रकाश को ED ने किया गिरफ्तार, सीएम सोरेन के करीबी घर से मिली थी दो एके-47

रांची: प्रवर्तन निदेशालय (ED) ने चर्चित कारोबारी प्रेम प्रकाश उर्फ पीपी (Prem Prakash Arrest) को गिरफ्तार कर लिया है। झारखंड के सीएम हेमंत सोरेन के करीबी माने जाते हैं। एक दिन पहले जांच एजेंसी ने प्रेम प्रकाश के कई ठिकानों पर छापेमारी की थी। इस दौरान दो AK-47 रायफल मिली थी। प्रवर्तन निदेशालय की टीम ने बुधवार को रांची समेत विभिन्न ठिकानों पर छापेमारी के बाद गुरुवार तड़के तीन बजे प्रेम प्रकाश को गिरफ्तार कर लिया। अब से कुछ देर बाद उन्हें मेडिकल जांच के लिए सदर अस्पताल ले जाया जाएगा।

गिरफ्तारी से अवैध खनन और जबरन वसूली के मामले में खुलासे के आसार
ईडी के आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, प्रेम प्रकाश के छापेमारी और पूछताछ के दौरान कई अहम जानकारियों के बाद गिरफ्तार किया गया है। सत्ता के गलियारे का चर्चित पावर ब्रोकर कहे जाने वाले प्रेम प्रकाश उर्फ पीपी को गिरफ्तार किए जाने से अवैध खनन और जबरन वसूली से जुड़े मामले में कई अहम खुलासा होने की संभावना है।

Ranchi ED Raid : अंडे की सप्लाई से लेकर ट्रांसफर-पोस्टिंग तक, प्रेम प्रकाश उर्फ पीपी पर कैसे बन गए इतने बड़े राज़दार?
छापेमारी में आवास से मिली थी दो एके-47
इससे पहले बुधवार सुबह से देर रात तक पीपी के कई ठिकानों पर ईडी ने छापेमारी की। इस दौरान प्रेम प्रकाश के रांची स्थित हरमू में आवास से दो एके-47 राइफल और 60 गोलियां भी बरामद की गई थी। जिसके बाद रांची पुलिस की ओर से यह जानकारी दी गई थी कि यह बरामद हथियार सरकारी हैं। दो कर्मियों ने बारिश की वजह से इसे पुलिस लाइन की जगह प्रेम प्रकाश के एक सहयोगी स्टाफ के घर रख दिया था। दूसरे दिन जब उसे वहां लेने पहुंचे तो ईडी की छापेमारी चल रही थी। इस मामले में रांची पुलिस की ओर से 2 जवानों को निलंबित कर दिया गया है।

AK 47 In Ranchi: आलमारी में सजा रखी थी दो-दो एके 47, रांची में छापेमारी के सीएम सोरेन के करीबी के घर रायफलें देख हिल गए ED के अफसर
खनन से लेकर ट्रांसफर-पोस्टिंग में दखल?
प्रेम प्रकाश की झारखंड के नौकरशाहों और राजनीतिक दलों में मजबूत पकड़ मानी जाती है। अपने प्रभाव से कई अनुचित काम कराने का आरोप लंबे समय से लगते आया है। कई आईएएस अधिकारियों से करीबी और ट्रांसफर-पोस्टिंग कराने वाले बड़े चेहरे के तौर पर प्रेम प्रकाश की पहचान है। कहा तो यहां तक जाता है कि हर ट्रांसफर-पोस्टिंग में उनकी सहमति होती है। सूत्रों के मुताबिक मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन के विधायक प्रतिनिधि पंकज मिश्रा और अन्य से पूछताछ के बाद ईडी की ओर से अब नए सिरे से छापेमारी की गई। हरमू इलाके में अरगोड़ा चौक के पास चर्चित कारोबारी प्रेम प्रकाश के जिस दफ्तर में छापेमारी की गई, वो काफी दिनों से बंद था। हॉली एंजल स्कूल भी ईडी पहुंची थी। बीजेपी सांसद निशिकांत दूबे ने प्रेम प्रकाश को झारखंड में दलालों का सरगना बताया है।
रिपोर्ट- रवि सिन्हा, रांची

Source link

आप की राय

राष्ट्रियपति द्रोपदी मुर्मू को नवनिर्मित संसद भवन में आमंत्रित नहीं करना, सही या गलत ?

Our Visitor

027667
Latest news
Related news