Thursday, February 22, 2024

#Sahibganj: हजारों नगद रुपए और मोबाईल के छिनतई मामले में पुलिस ने दो को दबोचा

फ़ोटो कैप्शन: प्रेस कॉन्फ्रेंस करते थाना प्रभारी प्रणीत पटेल समेत अन्य
साहिबगंज: बीते दिन मंगलवार को बोरियो क्षेत्र के संथाली गांव के नाजिर नामक एक युवक से अंजुमन नगर में हथियार का भय दिखा कर कुछ अज्ञात युवकों ने हजारों रुपए नगद और मोबाइल की छिनतई करने का मामला प्रकाश में आया था, जिसके बाद पीड़ित नाजिर ने जिरवाबाड़ी थाना में छिनतई का मामला दर्ज कराया था। वहीं बुधवार को जिरवाबाड़ी थाना के प्रभारी प्रणीत पटेल ने लूटकांड का खुलासा करते हुए कहा कि अपराधियों ने नाटकीय ढंग से छिनतई अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया था। वहीं पीड़ित के आवेदन के आधार पर जिरवाबाड़ी थाना में कांड संख्या- 18/2024, दर्ज कर धारा-392 भा0द0वि0 एवं 27 आर्म्स एक्ट अंतर्गत अज्ञात आरोपियों के विरुद्ध कांड दर्ज किया गया था। जिसके बाद एक टीम का गठन कर आरोपियों की तलाश में जुट गए। वहीं छापामारी दल के द्वारा तकनिकी साक्ष्य एवं गुप्त सूचना के आधार पर छापामारी कर कांड का सफल उद्दभेदन करते हुए दो अप्राथमिकी अभियुक्त सोनू कुमार यादव उम्र करीब 24 वर्ष, पे०- महेन्द्र यादव, सा०- महादेवगंज थाना- मुफ्फसिल, जिला- साहबगंज। 2. छोटू कुमार यादव उम्र करीब 20 वर्ष, पे0- हरिवंश यादव, सा0- महादेवगंज बीच टोला, थाना- मुफ्फसिल, जिला- साहेबगंज को गिरफ्तार किया गया एवं कांड में लूटे गये वादी का मोबाईल, कांड में उपयोग किये गये टीवीएस अपाची मोटर साईकिल को बरामद किया गया। फिलहाल दोनों आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।
क्या था पूरा मामला:-
नाजिर अंसारी ने बताया कि बीते शनिवार संध्या डॉक्टर से रिपोर्ट लेकर सदर अस्पताल के गेट पर थे। एक युवक आकार मुझे अंजुमन नगर पहुंचाने की बात करने लगा। उसे मना किया, लेकिन उसने बहुत जिद्द किया और स्कूटी पर रखे सामान (गन्ना) को सामने की दुकान पर रखा दिया। मैंने यह भी कहा कि दो लोगों को बैठा कर में स्कूटी नाहीं चला सकता हूं, फिर उसने बोला की चला लूंगा। तुम बैठो पीछे। इसके बाद बहुत जिद्द करने के बाद पीछे बैठ गया। वह स्कूटी को लेकर अंजुमन नगर के लेकर गया। उसके बाद सुनसान जगह पर स्कूटी रोका। तभी पीछे से उसके दो सहयोगी नीले रंग की बाइक पर सवार होकर पहुंचे. पिस्तौल सटा कर मोबाइल व रुपये की छिनतई कर ली। इसके बाद स्कूटी की चाभी झाड़ी में फेंक दिया और तीनों फरार हो गए थे।

आप की राय

राष्ट्रियपति द्रोपदी मुर्मू को नवनिर्मित संसद भवन में आमंत्रित नहीं करना, सही या गलत ?

Our Visitor

026397
Latest news
Related news